Tuesday, 14 February, 2012

मदनोत्सव की शुभकामनाएँ

बहुत रंग हैं

और बहुत खूबसूरत रंग है

जिसे कहें तुम्हारा होना

पर जो तुम हो

खालिस तुम

बिना किसी खुशबू या रंग

उसमे बस के कोई कोई

कभी जब खुद मे खुद को गुम पाता है

तो वो वहाँ है

जहाँ से कोई खबर किसी तक नहीं आती

उस तक भी नहीं

No comments:

Post a Comment