Thursday, 18 August, 2011

दास मलूका कह गए सबके दाता राम

पंछी करे न चाकरी अजगर करे न काम
सत्य वचन है भाई
अब देखो हमारे देश में आजकल
कुछ हैं जो अजगर की तरह 
छीन झपट जोर जबरदस्ती से 
भर लेते हैं पेट 
और बाकी 
जिनकी औकात नहीं है ऐसा करने की 
टूंगते रहते हैं चिड़िया जैसे जो मिल जाये
अगर मिल जाये 

No comments:

Post a Comment